Ayatul Kursi in Hindi – आयतल कुर्सी

आयतल कुर्सी – Ayatul Kursi in Hindi

पवित्र कुरान में सबसे अच्छी आयत आयतुल कुर्सी है। यह सूरह अल-बकरा की 255वीं आयत है। इस श्लोक के अभ्यास से अनेक गुणों की प्राप्ति संभव है। इस श्लोक को पढ़कर व्यक्ति को शैतान के हाथों से बचाया जा सकता है और शैतान के पापपूर्ण कार्यों से मुक्त किया जा सकता है। शैतान हमेशा तरह-तरह के पापों में लिप्त रहता है, इसलिए हम जितना हो सके इस श्लोक को पढ़ेंगे।इंशाअल्लाह, ईश्वर हमें शैतान की सभी बुराइयों से मुक्त करेगा। आज के आर्टिकल में हमलोग पढ़ेंगे Ayatul kursi in hindi

अल्लाह सुब्हानहु व ताअला ने हमको ये तौफीक दी हैं कि आयतुल कुर्सी हिंदी में और इसकी फज़ीलत के बारे में आप लोगो को बताये।

आयतुल कुर्सी के फ़ज़ाइल – Aytul Kursi Ki Fazilat

1) पैगंबर (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) ने प्रमुख साथियों में से एक, अल्लाह के रसूल (सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम) से सुनाया कि वह व्यक्ति जो हर अनिवार्य प्रार्थना के अंत में आयतुल कुर्सी का पाठ करता है स्वर्ग में प्रवेश करने के लिए मृत्यु के अलावा कोई बाधा नहीं है।

2) जब आयतुल कुर्सी गिरे और घर से चले गए, तो 70,000 स्वर्गदूतों ने उन्हें चारों ओर से बचाया। और यदि वह गिरकर घर में प्रवेश करे, तो दरिद्रता उस घर में प्रवेश नहीं कर सकती।

3) एक अन्य कथन के अनुसार, एक व्यक्ति रात में सोने से पहले आयतुल कुर्सी का पाठ करता है, इसलिए अल्लाह उसके सिर के पास एक अभिभावक देवदूत नियुक्त करता है जो पूरी रात उसकी रक्षा करता है और उसे जिन्न और शैतान की बुराइयों से बचाता है।

4) मुस्तदरक की एक रिवायत में है कि ‘ ‘सूरए ब-करह’” में एक आयत है ! जो कुरआने पाक की तमाम आयतों की सरदार है ! वोह आयत जिस घर में पडी जाए उस घर से शेतान निकल जाता है ! और वोह आयतल कुर्सी ( Ayatul Kursi ) है ।

5) अगर इस आयत को ओयू के बाद पढ़ा जाए तो अल्लाह की शान सत्तर गुना बढ़ जाती है।

6) यदि आयतुल कुर्सी का पाठ किया जाता है, तो अल्लाह उन्हें जन्नत के सभी आठ द्वारों से प्रवेश करने का अवसर देगा।

आयतुल कुर्सी अरबिक और हिंदी मे

ﻣَﺎ ﻓِﻲ ﺍﻟﺴَّﻤَﺎﻭَﺍﺕِ ﻭَﻣَﺎ ﻓِﻲ ﺍﻷَﺭْﺽِ ﻣَﻦ ﺫَﺍ ﺍﻟَّﺬِﻱ ﻳَﺸْﻔَﻊُ ﻋِﻨْﺪَﻩُ ﺇِﻻَّ ﺑِﺈِﺫْﻧِﻪِ ﻳَﻌْﻠَﻢُ ﻣَﺎ ﺑَﻴْﻦَ ﺃَﻳْﺪِﻳﻬِﻢْ ﻭَﻣَﺎ ﺧَﻠْﻔَﻬُﻢْ ﻭَﻻَ ﻳُﺤِﻴﻄُﻮﻥَ ﺑِﺸَﻲْﺀٍﻣِّﻦْ ﻋِﻠْﻤِﻪِ ﺇِﻻَّ ﺑِﻤَﺎ ﺷَﺎﺀ ﻭَﺳِﻊَ ﻛُﺮْﺳِﻴُّﻪُ ﺍﻟﺴَّﻤَﺎﻭَﺍﺕِ ﻭَﺍﻷَﺭْﺽَ ﻭَﻻَ ﻳَﺆُﻭﺩُﻩُ ﺣِﻔْﻈُﻬُﻤَﺎ ﻭَﻫُﻮَ ﺍﻟْﻌَﻠِﻲُّ ﺍﻟْﻌَﻈِﻴﻢ

आयतल कुर्सी Ayatul Kursi Hindi Mein
उच्चारण: अल्लाहु ला इलाहा इल्लाहू अल हय्युल क़य्यूम ला तअ’खुज़ुहू सिनतुव वला नौम। लहू मा फिस सामावाति वमा फ़िल अर्ज़। मन ज़ल लज़ी यश फ़ऊ इन्दहू इल्ला बि इजनिह यअलमु मा बैना अयदी हिम वमा खल्फहुम वला युहीतूना बिशय इम मिन इल्मिही इल्ला बिमा शा..अ वसिअ कुरसिय्यु हुस समावति वल अर्ज़ वला यऊ दुहू हिफ्ज़ुहुमा वहुवल अलिय्युल अज़ीम।

हिंदी अनुवाद: अल्लाह जिसके सिवा कोई माबूद नहीं वही हमेशा जिंदा और बाकी रहने वाला है। न उसको ऊंघ आती है न नींद। जो कुछ आसमानों में है और जो कुछ ज़मीन में है सब उसी का है। कौन है जो बगैर उसकी इजाज़त के उसकी सिफारिश कर सके? वो उसे भी जनता है जो मख्लूकात के सामने है और उसे भी जो उन से ओझल है। बन्दे उसके इल्म का ज़रा भी इहाता नहीं कर सकते सिवाए उन बातों के इल्म के जो खुद अल्लाह देना चाहे। उसकी ( हुकूमत ) की कुर्सी ज़मीन और असमान को घेरे हुए है। ज़मीनों आसमान की हिफाज़त उसपर दुशवार नहीं। वह बहुत बलंद और अज़ीम ज़ात है।

Ayatul Kursi in English

BisMilla Hir Rahmanir Raheem

Allahu La Ilaha Illa Hu
Al Hayyul Qayyoom
La Ta Khuzuhu Sinatuw Wala Naum
Lahu Ma Fis Samawati Wama Fil Arz
Man Zal Lazi Yashfau Indahu Illa Bi Iznih
Ya Alamu Ma Baina Aideehim Wama Khalfahum
Wala Yuheetoona Bishay’im Min Ilmihi Illa Bima Shaa…A
Wasia Kursiy yuhus Samawati Wal Arz
Wala ya ooduhu hifzuhuma
Wahuwal aliyyul azeem

Related Articles

Popular Now

Categories

ABOUT US

Dainikchorcha.com is a blog where we post blogs related to Web design and graphics. We offer a wide variety of high quality, unique and updated Responsive WordPress Themes and plugin to suit your needs.

Contact us: [email protected]

FOLLOW US